जम्मू:दिग्विजय बोले-सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत नहीं दिए,दावा- पुलवामा के वक्त CRPF ने PM से कहा था जवानों को एयरक्राफ्ट से भेजिए, वो नहीं माने

जम्मू:दिग्विजय बोले-सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत नहीं दिए,दावा- पुलवामा के वक्त CRPF ने PM से कहा था जवानों को एयरक्राफ्ट से भेजिए, वो नहीं माने

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सोमवार को 2016 में हुए सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया। उन्होंने जम्मू में कहा कि सरकार ने अब तक सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत नहीं दिया है। केंद्र सरकार सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बात करती है कि हमने इतने लोग मार गिराए हैं, लेकिन सबूत कुछ नहीं है।

दिग्विजय ने सर्जिकल स्ट्राइक के अलावा 2019 में पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर भी प्रधानमंत्री को घेरा। कांग्रेस नेता ने दावा किया कि पुलवामा हमले के वक्त CRPF अफसरों ने कहा था कि जवानों को एयरक्राफ्ट से मूवमेंट कराया जाए, पर प्रधानमंत्री नहीं माने।

बता दें कि 2019 में पुलवामा में हुए आतंकी हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हुए थे। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।

भाजपा बोली- गैरजिम्मेदाराना बयान देना कांग्रेस का चरित्र

BJP प्रवक्ता गौरव भाटिया ने इस पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा गैरजिम्मेदाराना बयान देना कांग्रेस पार्टी का चरित्र है। हमारे सुरक्षा बलों के खिलाफ बोलने वाले किसी को भी देश बर्दाश्त नहीं करेगा। पीएम मोदी से नफरत के कारण राहुल गांधी और दिग्विजय सिंह में अब देशभक्ति नहीं बची है। जब भी हमारी वीर सेना अपना पराक्रम दिखाती है तो सबसे अधिक दर्द उस देश को होता है जिसको सबक सिखाया जाता है, जो विश्व में अपनी आतंकी गतिविधियों को लेकर जाना जाता है। लेकिन यह दुखद है कि दर्द भारत की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को होता है।

1. केंद्र केवल झूठ फैला रहा

जम्मू-कश्मीर में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दिग्विजिय सिंह बोले- केंद्र ने संसद में अब तक पुलवामा हमले और सर्जिकल स्ट्राइक की रिपोर्ट नहीं दी है। भाजपा की सरकार केवल झूठ फैला रही है। हमारे 40 जवान पुलवामा में शहीद हो गए। CRPF के डायरेक्टर ने मांग की थी कि यह संवेदनशील जोन है। जवानों को हवाई जहाज से श्रीनगर भेजा जाए, लेकिन मोदी जी ने मना कर दिया। सरकार ने जानकर ऐसा किया। वहां हर गाड़ी की चेकिंग होती है तो फिर स्कॉर्पियो गाड़ी की जांच क्यों नहीं हुई, जिसके टकराने से ब्लास्ट हुआ।

2. 370 हटने का फायदा हुआ? आतंकवाद राजौरी तक फैल गया

कांग्रेस नेता ने कहा कि 370 हटने से फायदा किसका हुआ? कहते थे आतंकवाद खत्म हो जाएगा, हिंदुओं का बोलबाला हो जाएगा, लेकिन जब से धारा 370 हटी है, आतंकवाद बढ़ा है। रोज कुछ ना कुछ हो रहा है। पहले ये आतंकवाद घाटी तक सीमित था, लेकिन अब राजौरी, डोडा तक पहुंच गया है।

3. केंद्र सरकार समस्या कायम रखना चाहती है

उन्होंने कहा कि हुकूमत यहां की समस्या का निदान नहीं करना चाहती है। हुकूमत यहां का फैसला नहीं करवाना चाहती। ये समस्या कायम रखना चाहती है, ताकि कश्मीर फाइल्स जैसी फिल्में बनती रहें और हिंदू- मुसलमानों में नफरत फैलती रहे। कभी आपने देखा कोई प्रधानमंत्री किसी फिल्म का प्रचार करने गया हो।

इसके बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि सच्चाई यह है कि देश को रोजगार सिर्फ छोटे व्यापारी और लघु और मध्यम व्यवसाय ही दे सकते हैं, देश के 2-3 बड़े उद्योगपति नहीं। इसलिए भारत में बेरोजगारी फैल रही है। हिंदुस्तान का पूरा का पूरा धन 2-3 उद्योगपतियों की जेब में जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जब कश्मीरी पंडितों का एक डेलिगेशन लेफ्टिनेंट गवर्नर से मिलने गया तो LG ने उनसे कहा कि तुम्हें भीख नहीं मांगनी चाहिए। मैं लेफ्टिनेंट गवर्नर जी से कहना चाहता हूं कि ये भीख नहीं, अपना हक मांग रहे हैं। आपको कश्मीरी पंडितों से माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा ने दिया दिग्विजिय सिंह के सवाल का जवाब

BJP ने कांग्रेस नेता दिग्विजिय सिंह के सवाल का जवाब दिया है। पार्टी के प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा- जब भी हमारी वीर सेना पराक्रम दिखाती है तो सबसे ज्यादा दर्द उस देश को होता है जिसको सबक सिखाया जाता है, जो विश्व में अपनी आतंकी गतिविधियों को लेकर जाना जाता है। लेकिन यह दुखद है कि दर्द भारत की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को होता है।


Leave a Reply

Required fields are marked *