STF ने विनय पाठक जांच का ब्योरा शासन को भेजा, मामले की CBI जांच की है सिफारिश

STF ने विनय पाठक जांच का ब्योरा शासन को भेजा, मामले की CBI जांच की है सिफारिश

यूपी STF ने भ्रष्टाचार मामले में घिरे कानपुर विश्वविद्यालय के वीसी विनय पाठक के मामले का पूरा ब्योरा तैयार कर शासन को सौंप दिया है। शासन की तरफ से तीन दिन पहले पूरे मामले की जांच CBI से कराए जाने की सिफारिश की गई थी। हालांकि अभी तक CBI की तरफ से मामले में कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं हुआ है। न ही वहां से किसी ने STF के अधिकारियों ने इस विषय पर बात की है।

शासन ने मांगी थी पूरे मामले में प्रगति रिपोर्ट

सूत्रों के मुताबिक शासन ने STF से वीसी विनय पाठक प्रकरण में प्रगति रिपोर्ट मांगी थी। जिसमें बिंदुवार अब तक हुई कार्रवाई और जांच रिपोर्ट के साथ कार्रवाई का ब्योरा मांगा गया था। उसके आधार पर पूरे मामले की जांच रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है। STF के एक अधिकारी के मुताबिक पांच दिन पहले सरकार ने इस मामले की सीबीआई जांच की संस्तुति कर दी है। इस संस्तुति के बाद ही शासन की ओर से अब तब की प्रगति का ब्योरा STF से मांगा गया था।

वीसी विनय पाठक और उनके साथी अजय मिश्र के खिलाफ डेविड मारियो ने 26 अक्टूबर को इंदिरानगर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसके बाद STF ने अजय मिश्र, अजय जैन और संतोष कुमार कर जेल भेज चुकी है। संतोष ने बरेली में बीएड परीक्षा केन्द्र में कोरोना किट सप्लाई का काम लिया था। संतोष की कंपनी के नाम पर अजय ने कमीशन लिया था।

Leave a Reply

Required fields are marked *