New Delhi: क्या होता है कैमरा Pixel जानिए सबकुछ

New Delhi: क्या होता है कैमरा Pixel जानिए सबकुछ

नई दिल्ली: किसी भी कैमरे में पिक्सल का रोल बहुत अहम होता है. यह ही कारण है जब आप कोई मोबाइल फोन या कैमरा खरीदने जाते हैं, तो सबसे पहले कैमरे के पिक्सेल की जानकारी लेते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि पिक्सल से वास्तव में कैमरे और उससे क्लिक की गई तस्वीर की क्वालिटी पर कितना असर पड़ता है. अगर नहीं, तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि पिक्सल क्या होता और कैमरा में इसका काम क्या होता है?

किसी भी फोटो की इमेज क्वालिटी पिक्सल के पैटर्न, साइज, आर्किटेक्चर और कैमरा प्रोसेसर पर निर्भर करती है. कैमरा जितने ज्‍यादा Pixels का होगा, पिक्चर क्वालिटी उतनी ही क्लियर होगी. वैसे आजकल के मोबाइल के कैमरा पिक्सल लगातार अपग्रेड हो रहे हैं और कंपनिया फोन में ज्यादा से ज्यादा पिक्सल ऑफर कर रही हैं. चलिए अब आपको बताते हैं कि पिक्सल क्या होता है और कैसे इमेज क्वालिटी को बेहतर बनाता है?

क्या होता पिक्सल

पिक्सेल पिक्चर का सबसे छोटा पार्टिकल होता है. इसका साइज बहुत ही छोटा होता है. इसे हम जूम लेंस के बिना नहीं देख सकते हैं. दरअसल, कोई भी पिक्चर बहुत सारे छोटे छोटे डॉट्स से मिलकर तैयार होती है इन्ही छोटे छोटे डॉट्स को पिक्सेल कहा जाता है. जब हम बहुत सारे pixel को एक खास पैटर्न में रख देते हैं, तो वो बहुत सारे पिक्सेल एक साथ मिलकर पिक्चर बनाते है. यह ही पिक्चर हमारी मोबाइल स्क्रीन पर दिखाई देती है.

इमेज क्वालिटी पर क्या होता पिक्सल का प्रभाव?

इमेज क्वालिटी पूरी तरह से पिक्सल के पैटर्न, साइज, आर्किटेक्चर और कैमरा प्रोसेसर पर निर्भर होती है. कैमरा का इमेज सेंसर छोटे छोटे फोटोसाइट्स को एक पैटर्न पर रख कर बनाया जाता है. ये पैटर्न कैसा होगा ये कैमरा मैन्युफैक्चरिंग पर डिपेंड करता है.

अलग होती पिक्सेल की इंटेंसिटी

बता दें कि कैमरा जितने जयादा पिक्सेल साइज का होगा वो उतनी जयादा लाइट को कैप्चर करेगा. कैमरा जितनी ज्यादा लाइट कैप्चर करेगा पिक्चर की क्वालिटी उतनी ही अच्छी होगी. पिक्सल का आर्किटेक्चर भी पिक्चर क्वालिटी को बड़ा और घटा सकती है, क्यूंकि हर एक पिक्सेल की इंटेंसिटी अलग अलग होती है इसीलिए पिक्चर भी अलग अलग होती है.

Zoom में होता पिक्सल का फायदा

पिक्सल फोटो को जूम करते वक्त काफी काम आते हैं. कैमरे में जितने ज्यादा पिक्सल होंगे फोटो उतनी जूम की जा सकेगी और उसकी क्लियरिटी भी बनी रहेगी. ऐसे में तस्वीर की बारिकियों को आसानी से देखा जा सकता है क्योंकि हर पिक्सल काफी बारीकी से एक एरिया को कैप्चर करता है.

Leave a Reply

Required fields are marked *