New Delhi: कांग्रेस अध्यक्ष Mallikarjun Kharge के बयान पर राज्यसभा में हंगामा, Piyush Goyal ने की माफी मांगने की मांग

New Delhi: कांग्रेस अध्यक्ष Mallikarjun Kharge के बयान पर राज्यसभा में हंगामा, Piyush Goyal ने की माफी मांगने की मांग

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा जान दिए जाने वाले बयान पर अब हंगामा बढ़ने लगा है। 20 दिसंबर को ये मामला राज्यसभा में भी गूंजा। यहां पीयूष गोयल ने मल्लिकार्जुन खड़गे के बायन की निंदा की है। राज्यसभा में सदन के नेता पीयूष गोयल ने कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने अपने पीएम का अपमान दिया है।

उन्होंने कहा कि खड़गे ने अमर्यादित भाषा का उपयोग किया है। कांग्रेस ने बाबा साहेब का अपमान किया है। कांग्रेस के समय देश की जमीन पर कब्जा किया है। खड़गे नेअभद्र भाषा का प्रयोग किया है। इस तरह का बयान दे ने के बाद उन्हें सदन में रहने का अधिकार नहीं है।

उन्होंने कहा कि अलवर में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने अभद्र भाषण दिया था. जिस भाषा का प्रयोग किया गया है वह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने जिस तरह से अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया, निराधार बातें कही और देश के सामने झूठ पेश करने की कोशिश की, मैं उसकी निंदा करता हूं। मैं उनसे माफी की मांग करता हूं।

उन्होंने कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे को भाजपा, संसद और इस देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए जिन्होंने पूर्ण बहुमत से भाजपा की सरकार बनाई। आजादी के बाद महात्मा गांधी ने कहा कि कांग्रेस को भंग कर देना चाहिए। खड़गे जी इसका जीता जागता उदाहरण हैं और देश को दिखा रहे हैं कि गांधी जी ने जो कहा वह सच था और वह एक ऐसे राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं जो बोलना नहीं जानते। जब तक वह माफी नहीं मांगते, उन्हें यहां रहने का कोई अधिकार नहीं है।

वहीं इस मामले पर खड़से ने कहा कि ये बयान सदन के बाहर दिया गया है ऐसे में सदन के अंदर इस बयान पर माफी मांगने का सवाल नहीं उठता है। सदन के बाहर दिए गए बयान की च्रचा की जरुरत नीहं हैय़ उन्होंने सवाल किया कि भाजपा ने देश के लिए क्या किया है। कांग्रेस के राजीव गांधी, इंदिरा गांधी ने देश के लिए जान दी थी। उन्होंने कहा जो लोग देश की आजादी के लिए लड़े हैं उन्हें डरने की आवश्यकता नहीं है।

ये दिया था बयान

बता दें कि मल्लिकार्जुन खड़से ने बयान दिया था कि हमने देश को आज़ादी दिलाई और देश की एकता के लिए इंदिरा और राजीव गांधी ने अपनी जान की क़ुर्बानी दी। हमारे पार्टी के नेताओं ने अपनी जान दी, आपने क्या किया? आपके घर में कोई देश के लिए कुत्ता तक मरा है? क्या किसी ने कोई क़ुर्बानी दी है? इस बयान के बाद से ही भाजपा हमलावर हो गई है।

Leave a Reply

Required fields are marked *