साइबर फ्रॉड: किडनी बेचकर पैसे कमाना चाहती थी नर्सिंग की छात्रा, गंवा दिए 16 लाख रुपये

साइबर फ्रॉड: किडनी बेचकर पैसे कमाना चाहती थी नर्सिंग की छात्रा, गंवा दिए 16 लाख रुपये

नई दिल्ली: हैदराबाद से नर्सिंग स्टूडेंट के साथ ठगी का एक हैरान करने वाला मामले सामने आया है. यहां साइबर क्रिमिनल्स ने छात्रा से 16 लाख रुपये लूट लिए. ये सब तब हुआ जब छात्रा ने अपने पिता के अकाउंट से निकाले गए 2 लाख रुपये को वापस करने के लिए अपनी किडनी बेचने की कोशिश की. नर्सिंग छात्रा मूल रूप से गुंटूर की रहने वाली है. छात्रा ने स्पंदना कार्यक्रम के दौरान पुलिस को इसकी जानकारी दी और मदद मांगी.

TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, छात्रा हाल ही में नर्सिंग कोर्स करने के लिए हैदराबाद गई थी. फिर, उसने अपने पिता के UPI अकाउंट के जरिए वॉच, ड्रेस और भी दूसरे आइटम ऑनलाइन ऑर्डर किए. इसके बाद छात्रा ने ये पैसे पिता के नोटिस में आने से पहले ही वापस डिपॉजिट करने के बारे में सोचा. लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे इसलिए उसने किडनी बेचकर पैसा कमाने का एक ऑनलाइन तरीका खोजा निकाला.

ऐसे हुआ ठगी का खेल 

दर्ज शिकायत के मुताबिक, छात्रा को ऑनलाइन एक एडवरटाइजमेंट नजर आया, जिसमें लिखा था कि किडनी की अर्जेंट जरूरत है और डोनर को 7 करोड़ रुपये दिया जाएंगे. इस पर छात्रा ने डॉ प्रवीण राज नाम से शख्स से संपर्क किया. इस शख्स ने छात्रा से कहा कि उसे शुरुआत में 3.5 करोड़ रुपये दिए जाएंगे और बाकी का पैसा बाद में दिया जाएगा.

इतना ही नहीं आरोपी ने छात्रा से उसकी मेडिकल रिपोर्ट भी मांगा और बताया कि वह किडनी देने के लिए एलिजिबल है. इसके बाद ठगी का असली खेल शुरू हुआ. ठग ने छात्रा से टैक्स और पुलिस वेरिफिकेशन के नाम पर 16 लाख रुपये मांगे और छात्रा ने ये रकम दे दी. लेकिन, जब छात्रा ने अपना पैसा मांगा तो आरोपी ने छात्रा से पैसे लेने के लिए दिल्ली जाने को कहा. जब, छात्रा वहां पहुंची तो पाया कि एड्रेस फर्जी है.

पिता के ATM से निकाले पैसे

दरअसल, छात्रा ने 16 लाख रुपये अपने पिता के अकाउंट से निकाले थे. छात्रा के पिता ने बताया कि उन्होंने अपना एक ATM बेटी को दिया हुआ था. इससे कैश नवंबर में निकाला गया था. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पिता ने अपनी बेटी को घर आने के लिए कहा था, लेकिन वो हॉस्टल से कहीं और चली गई थी. इस पर पिता ने पुलिस केस दर्ज कराया. पुलिस ने तलाश शुरू की तो छात्रा आंध्र प्रदेश के एनटीआर जिले में जग्गय्यपेटा में अपनी एक दोस्त के घर पर मिली.

Leave a Reply

Required fields are marked *