फोन की लॉक स्क्रीन को कोई भी कर सकता है अनलॉक! तुरंत अपडेट करने की सलाह

फोन की लॉक स्क्रीन को कोई भी कर सकता है अनलॉक! तुरंत अपडेट करने की सलाह

नई दिल्ली: फोन की लॉक स्क्रीन सिक्योरिटी के लिए होती है, लेकिन अगर आपको ये पता चले कि स्क्रीन लॉक को भी आसानी से कोई भी तोड़ कर आपके फोन का एक्सेस कर सकता है तो कैसे होगा आपका रिएक्शन? जी हां ऐसे ही एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है. साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर डेविड शुट्ज़ ने अपने पूरी तरह से पैच किए गए Google Pixel 6 और Pixel 5 स्मार्टफोन पर लॉक स्क्रीन को बायपास करने का एक तरीका खोज लिया है, जिससे कोई भी व्यक्ति इसे अनलॉक करने के लिए डिवाइस तक पहुंत प्राप्त कर सकता है.

आपको जानकर हैरानी होगी कि एंड्रॉयड फोन पर लॉक स्क्रीन को बायपास करना यानी कि तोड़ने और खामी का फायदा उठाना एक आसान सा 5 स्टेप प्रोसेस है जिसमें कुछ मिनट से ज़्यादा समय नहीं लगता है.

शुट्ज़ का कहना है कि उन्हें इस खामी का तब मालूम हुआ जब उनके Pixel 6 की बैटरी खत्म होने पर उन्होंने तीन बार गलत पिन डाला और फिर PUK पर्सनल अनब्लॉकिंग की कोड का इस्तेमाल करके लॉक किए गए सिम कार्ड को रिकवर कर लिया.

आगे बताया गया है कि सिम को अनलॉक करने और एक नया पिन चुनने के बाद, डिवाइस ने लॉक स्क्रीन पासवर्ड नहीं मांगा बल्कि सिर्फ एक फिंगरप्रिंट स्कैन मांगने लगा.

शुट्ज़ सिक्योरिटी के लिए एंड्रॉयड डिवाइस हमेशा रीबूट पर लॉक स्क्रीन पासवर्ड या पैटर्न रिक्वेस्ट करता है, इसलिए सीधे फिंगरप्रिंट अनलॉक पर जाना सामान्य नहीं था.

रिसर्चर ने एक्सपेरिमेंट जारी रखा, और जब उन्होंने डिवाइस को रिबूट किए बिना और अनलॉक कंडीशन से शुरू करने की कोशिश की, तो उन्हें लगा कि फिंगरप्रिंट प्रॉम्प्ट को बायपास करना भी संभव है, और इससे सीधे होम स्क्रीन पर जाया जा सकता है.

ठीक हो चुकी है दिक्कत

Google ने पिछले हफ्ते जारी किए गए लेटेस्ट Android अपडेट पर सुरक्षा समस्या को ठीक कर दिया है, लेकिन यह कम से कम छह महीने तक के लिए उपलब्ध रहा है.

बताया गया है कि इस सिक्योरिटी खामी का प्रभाव काफी ज़्यादा है, और ये उन Android वर्जन 10, 11, 12 और 13 पर चलने वाले सभी डिवाइस को प्रभावित करता है, जो कि नवंबर 2022 पैच लेवल पर अपडेट नहीं हुए हैं.

Leave a Reply

Required fields are marked *