UK का PM बनते ही ऋषि सुनक ने यूक्रेन को दिया समर्थन का भरोसा, रूस बोला- बेहतर संबंध की उम्मीद नहीं

UK का PM बनते ही ऋषि सुनक ने यूक्रेन को दिया समर्थन का भरोसा, रूस बोला- बेहतर संबंध की उम्मीद नहीं

लंदन: ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बने ऋषि सुनक ने पद संभालने के बाद यूक्रेन संग बातचीत की है. रूस और यूक्रेन में महीनों से जारी जंग के बीच ऋषि सुनक ने यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के साथ बातचीत की और यूक्रेन के लोगों के लिए ब्रिटेन की एकजुटता और समर्थन व्यक्त किया. हालांकि, ऋषि सुनक के इस कदम से रूस खफा हो गया है. ब्रिटिश पीएम द्वारा जेलेंस्की से बातचीत पर रूस ने कहा कि ब्रिटेन के साथ अच्छे संबंधों की उसे कोई उम्मीद नहीं दिखती.


समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, ऋषि सुनक ने ट्वीट किया और कहा कि आज शाम यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से बात करने का सौभाग्य मिला. उन्होंने कहा कि वह जेलेंस्की और यूक्रेन के लोग दोनों ब्रिटेन की निरंतर एकजुटता और समर्थन पर भरोसा कर सकते हैं. हम हमेशा यूक्रेन के साथ खड़े रहेंगे.


वहीं, इससे पहले सुनक के पीएम बनने के बाद रूस और ब्रिटेन के बीच अच्छे संबंधों की संभावनाओं वाले सवाल के जवाब में क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने मंगलवार को कहा कि नहीं, वर्तमान में और निकट भविष्य में भी हम ब्रिटेन के साथ कुछ सकारात्मक बदलावों के लिए कोई आधार या उम्मीद नहीं देखते हैं.


बता दें कि इससे पहले ऋषि सुनक ने यूक्रेन के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर एक पत्र लिखा था, जिसमें रूसी आक्रामकता के विरोध में यूक्रेन के दृढ़ साहस की प्रशंसा की थी और यूद्ध जारी रहने पर यूनाइटेड किंगडम के लोगों के समर्थन का वादा किया था. पोस्ट में प्रकाशित एक लेटर में ऋषि सुनक ने कहा था कि ब्रिटेन और यूक्रेन आजीवन दोस्त रहेंगे और यूक्रेन को समृद्ध, महत्वाकांक्षी और दूरदेशी देश के रूप में पुननिर्माण में मदद करेंगे.


ऋषि सुनक ने अपने पत्र में लिखा था कि रूसी आक्रामकता के लिए खड़े होने के आपके दृढ़ साहस ने दुनिया भर के शांतिपूर्ण और स्वतंत्रता-प्रेमी लोगों को आशा दी है और निरंकुशों को एक स्पष्ट संदेश दिया है. उन्होंने कहा था कि हमारे देश में यहां जो भी बदलाव आए, हम ब्रितानी हमेशा आपके सबसे मजबूत सहयोगी बने रहेंगे. सुनक ने यूक्रेन के बहादुर लड़ाकों को समर्थन देने की कसम खाई थी और कहा था कि ब्रिटेन यूक्रेन को दवा और खाने की उपलब्धता सुनिश्चित करेगा और मानवीय सहायता प्रदान करता रहेगा.

Leave a Reply

Required fields are marked *